Tue. May 24th, 2022

कल्लू-यामिनी के साथ भारत फिल्म एकेडमी ने शुरू की प्यार जब केहू से हो जाला

भारत फिल्म एकेडमी की पहली भोजपुरी फ़िल्म प्यार जब केहू से हो जाला की शूटिंग शुरू लखनऊ में

भारत फिल्म एकेडमी की पहली भोजपुरी फिल्म की शूटिंग शुरू लखनऊ में, कल्लू यामिनी की जोड़ी आयेगी नजर

युवा दिलों की धड़कन सुपरस्टार अरविन्द अकेला कल्लू और क्यूट गर्ल यामिनी सिंह इन दिनों उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भोजपुरी फिल्म प्यार जब केहू से हो जाला की शूटिंग कर रहे हैं। इस फिल्म में एक बार फिर अरविन्द अकेला कल्लू और यामिनी सिंह एक साथ नजर आने वाले हैं, जो सिल्वर स्क्रीन पर इश्क़ में नादानियाँ करते हुए दिखेंगे। यह फिल्म फुल इंटरटेनिंग सिनेमा है, जो कि सभी उम्र के दर्शकों को पसंद आने वाली है। अरविन्द अकेला कल्लू और यामिनी ने अब तक कई भोजपुरी फिल्में एक साथ की हैं और उनकी रोमांटिक जोड़ी काफी पसंद की जाती है। उनमें कमाल की अंडरस्टैंडिंग और दोनों के बीच गजब की ट्यूनिंग है।

उल्लेखनीय है कि लखनऊ में अव्वल दर्जे पर एक्टिंग क्लासेस चला रही भारत फिल्म एकेडमी पहली बार भोजपुरी फिल्म का निर्माण कर रही है। इस बैनर की पहली भोजपुरी फिल्म प्यार जब केहू से हो जाला का निर्माण किया जा रहा है, जिसकी शूटिंग विधिवत पूजा अर्चना करके शुरू कर दी गई है। फिल्म की शूटिंग लखनऊ के मनोरम रिसोर्ट जलसा एवं आस पास के रामनीय स्थलों पर की जा रही है।

गौरतलब है कि फिल्म की निर्मात्री पद्मिनी सिंह हैं। फिल्म के निर्देशक सुजीत कुमार सिंह हैं। लेखक वीरू ठाकुर हैं। संगीतकार ओम झा, साजन मिश्रा हैं। छायांकन फिरोज खान, नृत्य प्रसून यादव, मारधाड़ प्रदीप खड़का और कला निर्देशक संजय कुमार का है। कार्यकारी निर्माता अरशद शेख (पप्पू), कबीर शर्मा हैं। मार्केटिंग हेड विजय यादव हैं। प्रचारक रामचन्द्र यादव व अरविन्द मौर्या हैं। फिल्म में मुख्य कलाकार अरविन्द अकेला कल्लू, यामिनी सिंह, देव सिंह, अमित शुक्ला, लोटा तिवारी हैं। साथ ही भारत फिल्म एकेडमी के सूर्या यादव, अंकित सिंह, रोहित गोस्वामी प्रमुख भूमिकाओं में इस फिल्म से अपना फिल्मी कैरियर शुरू कर रहे हैं।

  

उल्लेखनीय है कि लखनऊ में पिछले दो वर्षो से मशहूर एक्टिंग इंस्टीट्यूट भारत फिल्म अकेडमी चल रही है। अब उन्होंने यह फैसला किया है कि उनके एक्टिंग स्कूल से जो भी स्टूडेंट्स पास आउट होते हैं या जो एकेडमी में कोर्स कर रहे हैं, उन्हें प्लेटफॉर्म देने के लिए यह अकादमी भोजपुरी एवं हिंदी फ़िल्म का निर्माण कर रही है। इनकी फिल्म में कोई बड़ा स्टार भी होगा और नए कलाकारों को भी चांस देंगे। भारत फिल्म एकेडमी की यह कोशिश है कि उनके एक्टिंग स्कुल मेे जो भी कोर्स करने आए, उन्हें उनकी प्रतिभा के अनुसार फिल्म मे  ब्रेक दिया जाय।

Print Friendly, PDF & Email

By admin